नए साल में इन 5 कुकिंग ऑयल का करें इस्तेमाल, स्वाद के साथ सेहत भी रहेगी बरकरार

खाने जितना स्वादिष्ट होना जरूरी होता है उतना ही सेहत के लिए फायदेमंद होना भी आवश्यक होता है.

आमतौर पर हम खाने में मूंगफली तेल या फिर सोया तेल का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन सेहत को ध्यान में रखते हुए हम अपने कुकिंग ऑयल में बदलाव कर स्वादिष्ट खाने के साथ ही सेहत को बरकरार रख सकते हैं.

जैतून के तेल का खाने में इस्तेमाल न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाता है बल्कि सेहत के लिए भी लाभदायक होता है. इसमें मौजूद विटामिन ई, मोनोसैचुरेटेड फैट और एंटीऑक्सीडेंट्स दिल की सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं.

जैतून का तेल (Olive Oil)

अलसी खाने के फायदे के बारे में तो हम सभी जानते हैं. खाने में अलसी के तेल का इस्तेमाल भी उतना ही फायदेमंद होता है. यह शुगर और दिल संबंधी बीमारियों में काफी लाभदायक होता है.

अलसी का तेल

सर्दियों के मौसम में सरसों के तेल का इस्तेमाल काफी फायदेमंद हो सकता है. सरसों के तेल की तासीर गर्म होती है जो बॉ़डी को गर्म रखने में मदद करती है. उत्तर भारत में खाने में इसका काफी इस्तेमाल किया जाता है.

सरसों का तेल (Mustard Oil)

तिल की तासीर भी सरसों के तेल की तरह ही गर्म होती है. तिल गुणों से भरपूर होता है. ऐसे में खाने में तिल के तेल का इस्तेमाल शरीर के लिहाज से काफी लाभदायक होता है. यह कई बीमारियों से लड़ने में मदद भी करता है.

तिल का तेल

सूरजमुखी का तेल खाने में कई लोग रूटीन में प्रयोग करते हैं. यह दिल की सेहत के लिए काफी लाभदायक माना जाता है. इसके साथ ही ब्लड शुगर, मोटापे जैसी समस्याओं से भी इसका सेवन काफी हद तक बचाता है.

सूरजमुखी का तेल (Sunflower Oil)

THANK YOU